आदिवासी मीणा समाज सपोटरा ने विभिन्न मांगों को लेकर मुख्यमंत्री के नाम सौंपा ज्ञापन।

आदिवासी मीणा समाज सपोटरा ने विभिन्न मांगों को लेकर मुख्यमंत्री के नाम सौंपा ज्ञापन।

सपोटरा – विश्व आदिवासी दिवस 9 अगस्त को सरकारी अवकाश घोषित करने सहित आदिवासियों के मूल अधिकारों के प्रति सरकार की अनदेखी को लेकर बसपा के प्रदेश उपाध्यक्ष इंजीनियर हंसराज मीणा बालोती के नेतृत्व में मुख्यमंत्री के नाम उपखंड अधिकारी सपोटरा के रीडर हंसराज मीणा को ज्ञापन सौंपा। 

 इंजीनियर हंसराज मीणा बालोती ने बताया कि विश्व आदिवासी दिवस 9 अगस्त को राजकीय अवकाश घोषित करने सहित आदिवासियों को संविधान द्वारा प्रदत्त अधिकारों के बारे में सरकारी तंत्र को जागरूक करना एवं आदिवासियों को जागरूक करने के लिए जन जागरूकता अभियान चलाया जाए। 

 पांचवी और छठवीं अनुसूची को लागू किया जाए टीएसपी क्षेत्रों में आबादी के हिसाब से आरक्षण व्यवस्था लागू हो। 

 अधिकार अधिनियम 2006 को संपूर्ण राजस्थान में लागू कर मूल अधिकारों के तहत गांवों को सामूहिक पट्टे दिए जाएं। 

जिन आदिवासी परिवारों के दावे निरस्त हुए हैं उन्हें 11 जुलाई की समय सीमा को आगे बढ़ाया जाए। 

 पेशा एक्ट को सख्ती से लागू किया जाए। 

 रणथंभोर, सरिस्का, मुकुंदरा हिल्स से होने वाले विस्थापन को तुरंत रोका जाए 

करौली जिले में प्रस्तावित लोह अयस्क खनन को रोका जाए

 पर्यावरण संरक्षण को ध्यान में रखते हुए आदिवासी दिवस 9 अगस्त को लगभग एक करोड़ पौधों का सरकार के द्वारा पौधारोपण किया जाए

 इस दौरान ज्ञापन देने वालों में योगेश मीणा, रविंद्र शर्मा, दीपक टाटू, प्रेमराज मीना, मुकेश पिलोदिया, प्रताप पाकड़, विजय सिंह मीणा, रोहिताश मीणा सहित आदिवासी समाज के कई युवा उपस्थित थे।

 सपोटरा से विनोद कुमार जांगिड़ की खास रिपोर्ट

About Vinod Kumar jangid

“किसी भी काम में अगर आप अपना 100% देंगे तो आप सफल हो जाएंगे।”