एक शिकायत : कृषि उपज मण्डी, गंगापुर सिटी

एक शिकायत : कृषि उपज मण्डी, गंगापुर सिटी

गंगापुरसिटी.

कृषि उपज मण्डी का गल्ला भले ही कमाई से भरा हो, लेकिन स्थिति ठीक नहीं है। गर्मी के दौर को लगभग दो माह गुजर गए और इन दिनों भी भीषण गर्मी का दौर चल रहा है लेकिन यहां की कृषि उपज मण्डी में ठंडे पानी के प्रबंध नहीं है। इस कारण उपज को बेचने आने वाले किसान तथा यहां के मजदूर ठंडे पानी के लिए तरसते हैं। कहने को तो यहां की मंडी को अ श्रेणी का दर्जा मिला हुआ है और यहां की वार्षिक आय 5 करोड़ से भी अधिक है लेकिन सुविधाओं के मामले में मंडी प्रशासन बेपरवाह है। इसी की बानगी है कि शुद्ध पानी के लिए यहां पर लगे दो आरओ प्लांट ताले में बंद हैं और वाटर कूलर भी तीन माह से खराब हैं। इनको सुधरवाने की बजाय मंडी प्रशासन ने आरओ तथा वाटरकूलर को ताले में बंद करके रखा है। इससे इन पर धूल चढ़ रही है।
मार्च माह से ही गर्मी का दौर शुरू हो गया और मंडी में पानी की दरकार भी बढ़ गई। इसके बावजूद मंडी प्रशासन को आरओ और वाटर कूलर संचालित करने की सुध अब तक नहीं आई। हालांकि मंडी में पानी की प्याऊ संचालित हैं जिन पर किसान-मजदूर प्यास बुझाते हैं लेकिन मंडी प्रबंधन की ओर से तो पानी के प्रबंध नहीं किए हुए हैं।
140 दुकान संचालित
मण्डी में कुल 140 दुकाने संचालित हैं। यहां पीलोदा, वजीरपुर, डिबस्या, खण्डीप, तलावड़ा, टोकसी, नादौती,सपोटरा, कुडग़ांव आदि क्षेत्रों से करीब सात से आठ सौ किसान रोजाना जिंसों को बेचने आते हैं। इनके साथ और लोग भी होते हैं। इसके अलावा माल खरीदने के लिए भी अन्य लोगों की आवाजाही बनी रहती है लेकिन पानी के माकूल प्रबंध नहीं होने से वे परेशान होते हैं।

About Anant Dubey

I am the developer of this portal