करोडों लोगों की आस्था का केन्द्र जगनेर ग्वाल बाबा का मंदिर

करोडों लोगों की आस्था का केन्द्र जगनेर ग्वाल बाबा का मंदिर

लाखों करोडों लोगों की आस्था का केन्द्र जगनेर ग्वाल बाबा का मंदिर।

उत्तरप्रदेश के आगरा जिला सीमा अन्तर्गत बसे जगनेर कस्बे की पहाडी़ पर बना है आज ग्वाल का मंदिर।

मंदिर पर जाने वाले सिरदालुओं के लिये चढ़ने हेतु बनी है सैंकडों सीढ़िया।

जी हां राजस्थान सीमा से सटी आज उत्तरप्रदेश आगरा जिला सीमा अन्तर्गत खेरागढ़ तहसील बीच बनी जगनेर कस्बे की पहाडी़ पर बना ग्वाल बाबा का मंदिर आज देश के लाखों करोडों लोगों की आस्था का केन्द्र बना हुआ है।

मिली जानकारी के मुताबिक ग्वाल का मंदिर पर हर साल सितम्बर महीने में एक मेला भी लगता है।

जिसमें लाखों महिला- पुरुष सिरदालु भक्त लोग आकर मंदिर में बने ग्वाल बाबा के दर्शन कर अपनी मनोकामंना का दीप प्रज्वलित कर दीप जलाते हैं।

साथ ही मेले अवसर पर दूर- दूर से कई गायक कलाकारों की टीम आकर अपना गायकी का जलवा बिखेरतें हैं।

जहां गायक कलाकारों का प्रबंधन कस्बे की मेला कमेटी करती है।

बता दें जगनेर कस्बा आज एक यूपी प्रदेश का पुलिस का थाना भी है।

जहां कस्बे के आस- पास झींटपुरा, भवनपुरा, बरिगमां रछौआ, भम्मा का नगला, कछपुरा, नगाला संतोषी, मेवली, सिहोली, राजूपुरा, दांदीपुरा पत्तीपुरा वीरभान, भमनई आदि कई गांव भी बने हुये है।

इतनां ही नहीं कस्बा ब्लाक के पास ही तांतपुर शहर भी बना हुआ है।

जहां राजस्थान धौलपुर से आने वाली नेरोगेज रेल लाईन का एक रेल स्टेशन भी है।

जहां आज रेल लाईन का ठहराव होने से रेलगाडी भी धौलपुर के लिये अपनी वापिसी करती है।

धौलपुर से अमित कुमार उन्देरिया रजौराखुर्द की एक रिर्पोट।

About Amit Kumar Underiya