गंगापुर सिटी हॉस्पिटल में चल रही है कंपाउंडरो की तानाशाही एवं हॉस्पिटल में है अनियमितता है जिसकी जिम्मेदारी कोई नहीं लेता |

गंगापुर सिटी हॉस्पिटल में चल रही है कंपाउंडरो की तानाशाही एवं हॉस्पिटल में है अनियमितता है जिसकी जिम्मेदारी कोई नहीं लेता |

सवाई माधोपुर के उपकरण गंगापुर सिटी के राजकीय अस्पताल की घटना 108 एंबुलेंस कर्मी मुशाहीद अहमद 108 ईएमटी कंपाउंडर है ।

 जो अमरगढ़ चौकी के पास हुए एक्सीडेंट के घायलों को हॉस्पिटल लेकर आया तो मुशाहीद अहमद की अचानक तबीयत खराब होने पर उसे डॉ जीपी सिंह ने भर्ती कर दिया ।

 मुशाहीद अहमद का कहना है कि कंपाउंडर भगवान सहाय गुप्ता ने समय पर इलाज नहीं किया और भामाशाह कार्ड मांग रहे थे ।

 कह रहे थे अगर भामाशाह कार्ड नहीं है तो ईलाज नहीं भी होगा और मुझे समय पर बोतल नहीं नहीं लग पाई ।

★अब सवाल यह खड़ा होता है कि जब 108 एंबुलेंस कर्मचारी को समय पर ईलाज नहीं हो पाता तो आम व्यक्तियों का इलाज कहां से होता होगा

★ जब स्टाफ स्टाफ के लिए ही समझौता नहीं कर सकता तो हम जनता के साथ क्या समझौता करता होगा ?

 ★ क्या पूरे हॉस्पिटल में चल रही है कंपाउंड होगी तानाशाही हॉस्पिटल को बना रखा है अपना घर ?

★ अस्पताल की सुरक्षा रामभरोसे चल रही है सुरक्षा गार्ड दो लगा रखे हैं, जिनका समय पर नहीं आना हॉस्पिटल में आए हुए मरीजों का सामान चोरी होना लड़ाई झगड़े होते रहना यह सब नॉर्मल बातें हैं ?

★ हॉस्पिटल में दो जनरेटर होने के बावजूद भी लाइट चली जाने पर मरीजों को करना पड़ता है कई परेशानियों का सामना ?

पीएमओ कुछ बताने को नहीं है तैयार |

About Uttam Meena