धड़ल्ले से हाईवे पर दौड़ रही है लाल रीता से भरी बजरी की ट्रॉलीयां | Dholpur News

धड़ल्ले से हाईवे पर दौड़ रही है लाल रीता से भरी बजरी की ट्रॉलीयां | Dholpur News

बिना विभागीय रोक- टोक धड़ल्ले से सड़क मार्ग पर दौड़ रही ट्रैक्टर- ट्रौलियों में भरकर लाल रेता बजरी।

रोजाना करीब ढाई सौ ट्रैक्टर ट्रौलियों में सैंपऊ क्षेत्र में बनी पार्वती नदी तट से भरकर हाईवे एक सौ तेईस से भरतपुर रुपवास की तरफ निकलती लाल रेता बजरी।

जी हां आज धौलपुर जिले के सैंपऊ क्षेत्र बनी पार्वती नदी तट से रोजाना करीब ढाई सौ ट्रैक्टर ट्रौलियों में लाल रेता बजरी नेशनल हाईवे 123 भरतपुर धौलपुर वाया ऊंचा नगला रुपवास होकर भरतपुर रुपवास पहुंचती नजर आ रही है।

हाईवे होकर पहुंचती लाल रेता बजरी पर विभाग का कोई खास ध्यान नहीं होने से रेता बजरी का व्यापार करने वाले लोगों की संख्या दनादन बढ़ती जा रही है।

कभी कभार खानापूर्ति के लिये संम्बधित विभाग इन पर कार्यवाही भी करता नजर आता है।

लेकिन इस तरह की कार्यवाही का लाल रेता बजरी व्यापारियों पर कोई खास फर्क नहीं पड़ रहा है।

बता दें जिले की सीमा से ज्यादा तरह ट्रैक्टर ट्रौलियों में भरकर लाल रेता बजरी का कारोबार चलाने वाले की मंडी भरतपुर जिले के रुपवास कस्बे में रोड़ किनारे लगती दिखाई देती है।

जहां से इनको आर्डर मिलने पर आस पास के इलाकों में बजरी का संचालन करते हैं।

इस तरह के धंधे में जिले की सीमा से लेकर अन्य जिले की सीमा तक के संम्बधित विभाग का हिस्सा होता है।

हिस्सा नहीं दिये जाने पर इनका चालान के रुप में रसीद को काट दिया जाता है।

About Amit Kumar Underiya