धौलपुर जिले की अधिकतर बैंकों का हाल बदहाल | Dholpur

धौलपुर जिले की अधिकतर बैंकों का हाल बदहाल | Dholpur

धौलपुर जिले की अधिकतर बैंकों का हाल बदहाल बना हुआ है ग्रामीण इलाके की बैंकों में स्थिति यह बनी हुई है कि यहां उपभोक्ताओं को सुविधा मुहैया कराने की बजाय काफी परेशानियों के दौर से गुजरना पड़ रहा है ठीक इसी तरह कुछ मामला गढ़ी सुक्खा गांव में संचालित एसबीआई बैंक का बना हुआ है जहां पर आए दिन बैंक कर्मियों द्वारा मनमानी के चलते ग्राहकों को परेशान होते हुए देखा जा रहा है आज सोमवार के दिन बैंक में पहुंचकर स्थिति देखी तो मौजूद लोगों ने बताया कि सुबह से बैंक कर्मियों द्वारा कंप्यूटर खराब होने का बहाना बनाया जा रहा था। और दर्जनों महिला पुरुष उपभोक्ता यहां अपने कामकाजो के लिए इंतजार में बैठे हुए थे जैसे ही कर्मचारियों ने मीडिया का कैमरा देखा तो काम शुरू कर दिया है इससे बैंक कर्मियों की लापरवाही साफ साफ जाहिर होती है बैंक में तैनात कर्मचारियों के द्वारा यहां आए दिन कामकाज के लिए आने वाले उपभोक्ताओं को कभी इंटरनेट की लाइन नहीं आने का बहाना तो कभी कंप्यूटर खराब होने का बहाना बनाकर लोगों को रोजमर्रा के कामों के लिए भी टाल दिया जाता है जिसके चलते बैंक से जुड़े ग्राहकों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ता है यहां तक कि बैंक में लगा एटीएम भी अधिकतर खराब रहता है उधर बैंक के कर्मचारियों के द्वारा बैंक में कैश नहीं होने की असमर्थता बता देने से लोगों का लेन-देन भी अटक गया है बैंक ग्राहक गोरेलाल ने बैंक कर्मचारियों पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए बताया कि बैंक में तैनात कर्मचारी बैंक समय में ही बैठकर कोल्ड ड्रिंक पीते रहते हैं जब ग्राहक अपने काम की बात करता है तो किसी का काम नहीं करते हैं और तरह-तरह के बहाने बनाकर ग्राहकों को लौटा दिया जाता है जब भी कोई ग्राहक विरोध करता है तो बैंक में तैनात गार्ड के द्वारा धक्के मार कर बाहर निकाल दिया जाता है और फिर उसे अंदर घुसने तक नहीं दिया जाता है बैंक ग्राहक तपेंद्र तोमर ने बैंक कर्मियों पर आरोप लगाते हुए बताया कि बैंक का एटीएम सो पीस बना हुआ है जिसमें अधिकतर कैश उपलब्ध नहीं रहता है। दूरदराज के ग्रामीण इलाकों से ग्रामीण महिला एवं पुरुष इस बैंक से जुड़े हुए हैं जो कि अपने इलाके का एकमात्र बैंक है लेकिन बैंक कर्मियों के बेरुखी रवैया के चलते अधिक ग्राहकों को निराश होकर ही बैरंग लौटना पड़ता है बैंक प्रबंधक आरडी मीणा से बैंक में बंद पड़े काम के बारे में पूछा गया तो उन्होंने काम चलने की बात कही तथा प्रबंधक ने मीडिया के कैमरे के सामने कोई भी जवाब देने की बजाय मौन धारण कर लिया।

About Rahul Sharma