नशे की लत का शिकार बन रही युवा पीढी।

नशे की लत का शिकार बन रही युवा पीढी।

रजौराखुर्द में नशे की लत का शिकार बन रही युवा पीढी।

जी हां आज धौलपुर जिले गांव में रजौराखुर्द में बिक रही अवैध शराब के नशे की लत का शिकार युवा पीढी बन रही है।

बता दें नेशनल हाईवे संख्या एक सौ तेईस किनारे बसे रजौराखुर्द गांव में जगह- जगह भारी तादात में बिक रही शराब का नशे का सबसे ज्यादा बुरा असर पिछड़े तबके के लोगों पर पड़ देखने को मिल रहा है।

अगर गांव अन्दर शराब पहुंचने की बात की जाये तो कुछ गांव दबंग जाति के लोग ही गांव के अन्दर चंद पैसों की खातिर जगह जगह बिक्री हेतु शराब की ठेका गाडी़ से खेप पहुंचाकर बडे़-बुजुर्ग लोगों के साथ युवा पीढी को नशे की लत का शिकार ही नहीं बना रहे बल्कि पूरी तरह से आज गांव माहौल करवा रहे हैं।

ऐसा भी नहीं सम्बधित धौलपुर विभाग के कर्मचारियों को गांव में बिक रही अवैध शराब की खबर नहीं हो खबर होने के बाबजूद भी अनजान बनकर बैठा है।

कई घरों में नहीं बन पाता शाम का खाना

गांव में बने कई घरों के मुखिया काम धंधा करने के बाद शाम को गांव में बिकती शराब का सेवन करके घर आने से परिवार के लोगों के झगडा करते देखे जाते हैं जिसके चलते परिवार में बच्चों को शाम का खाना नसीब नहीं होता है।

बच्चे झगड़े के चलते बिना खाना खाये भूंखे ही सो जाते हैं।

गांव में ज्यादातर शराब की बिक्री करने वाले लोग खोखा परचूने की दुकान चलाने वाले लोग हीं हैं।

इतनां हीं नहीं गांव की समूह की महिलाओं ने एक बार नजदीकी सैंपऊ थाना जाकर थाना प्रभारी से गांव में बिकती अवैध शराब की शिकायत की थी।

पर कोई ठोस कार्यवाही नहीं होने से शराब माफियाओं के गांव में हौंसले आज बुलंद बने हुये हैं।

About Amit Kumar Underiya