युवाओं को चढ़ रहा डीजे का रंग।

युवाओं को चढ़ रहा डीजे का रंग।

युवाओं को चढ़ रहा डीजे का रंग। 

 आज- कल हो रहे शादी समारोह कार्यक्रमों बजने वाला डीजे डीजे का रंग युवाओं के सिर चढ़ ही नहीं बोल रहा बल्कि कार्यक्रमों में आज युवाओं की एक पहली पसन्द बन चुका है। अगर देखा जाये तो बिना डीजे युवा लोगों को शादी समारोह आदि कार्यक्रमों का रंग फीका ही नजर दिखाई पड़ता है। एक जमाना था जब घर की महिलायें ब्याह-शादी कार्यक्रमों में मंगल गीत गाकर कार्यक्रम की रस्म को पूरा करती थी। जहां इनके मंगल गीतों की आवाज दूर- दूर तक जाती थी। लेकिन आज कार्यक्रमों में युवाओं की पसन्द डीजे आने से महिलायें कार्यक्रमों में कार्यक्रम के मंगल गीत तक गाना भूलने लगी हैं। वहीं अगर साथ ही देखा जाये तो डीजे की धुंन पर आज युवा पीढी और महिला तो क्या बुजुर्ग लोग भी डीजे की धुंन पर अपना पैर थिरकानें में पीछे नहीं रह रहे हैं।

About Amit Kumar Underiya