रक्तदान कर बचा रही है, पीड़ितों की जान टीम जीवन ज्योति

रक्तदान कर बचा रही है, पीड़ितों की जान टीम जीवन ज्योति

करौली

एक रक्तदाता से बच गई दो की जान

भरी दोपहरी में जहां लोग कूलर पंखों की हवा में आराम कर रहे थे। वहीं शुक्रवार दोपहर 12:00 बजे रक्त के अभाव में एक प्रसुता मौत से संघर्ष कर रही थी,  जिसकी जान बचाने टीम जीवन ज्योति फाउंडेशन के सदस्य फरिश्ता बनकर गणेश बंसल पहुंच गये। मामला करौली राजकीय चिकित्सालय का है। जहां कैलादेवी के गांव बमनपुरा निवासी प्रसूति  अशुपति ब्लड ग्रुप बी प्लस ब्लड बैंक में उपलब्ध नहीं होने से जीवन से संघर्ष कर रही थी। जिसकी सूचना शेरसिंह बैसला ने वाटसप्प ग्रुप पर वायरल कर दी। जिस पर टीम जीवन ज्योति फाउंडेशन के सदस्य गणेश बंसल को तुरंत जिला करौली अस्पताल पहुंचे और उसने परिजनों से मुलाकात की। प्रसूता के परिजनों ने बताया कि रक्त की वजह से प्रसव  रुका हुआ है,पर फरिश्ता बनकर पहुंचे गणेश बंसल के रक्तदान करने के 2 घंटे बाद ही सुरक्षित प्रसव हो गया । खुशी में मरीज के परिजनों के आंसू छलक पड़े और रक्तदाता ब टीम जीवन ज्योति फाउंडेशन के सदस्यों का हृदय से आभार व्यक्त किया।गौरतलब है,कि टीम जीवन ज्योति फाउंडेशन विगत 2 वर्षों से रक्तदान के क्षेत्र में काम कर रही यह संस्था हमेशा गरीब असहाय जरूरतमंदों को मौके पर जाकर रक्तदान करती है।

शुक्रवार देर सांय एक प्रसूता  को पारस हास्पिटल के चिकित्सक के एस बेनीवाल ने रक्तदान कर बचाया।

प्रतिदिन टीम जीवन ज्योति रक्तदान कर जरूरत मंदों को रक्तदान कर नया जीवन दान कर रही है।

रिपोर्ट  कलमुद्दीन खांन 

About Kalmuddin khan

रिपोर्टर गंगापुर पोर्टल, संवाददाता दैनिक नवज्योति , Cmn news rajsthan