रजौराकलां में नांच- गाकर निकाली कलशयात्रा |

रजौराकलां में नांच- गाकर निकाली कलशयात्रा |

मिली जानकारी के मुताबिक बीते दिन शुक्रवार सैंपऊ- से खेरागढ़ रोड़ पर बने गांव रजौरा कलां गांव के लोगों होने जा रही सप्ताह की कलश याञा को डीजे की धुन पर नांच गाकर बडी़-धूंमधाम से निकाला। 

गांव में बीते दिन शुक्रवार को निकली कलशयात्रा में काफी संख्या में पुरुष- महिलाओं मौंजूद रहे।

बता दें यह कलश याञा गांव स्थित बनी बघेल मौंहल्ला से निकलकर पंडित-ठाकुर- राजपूत- मौंहल्ला में गुजरते हुये कथा स्थल तक पहुंची।

साथ ही बता दें कलश याञा की कथा आरंम्भ हो चुका है।

कथा में कथावाचक रामजीआचार्य व्यास और परीक्षत श्रीमती नथिया देवी बदन सिह जादौन बताये गये हैं। 

बता दें रजौराकलां गांव राजस्थान राज्य की सीमा में बसा होकर धौलपुर जिले की सैंपऊ पंचायत समिति का आज गांव है। 

वैसे इसको आम भाषा में आज बड़े रजौरे के नाम से जाना जा रहा है।कलश याञा की खबर में खबर की स्क्रिप्ट गांव के युवा ऋषिकेश राजपूत के साथ गांव के लोगों से संवाददाता को मिली जानकारी पर तैयार की गई।

About Amit Kumar Underiya