राशि जमा करने के बावजूद भी उपभोक्ता को मिल रहा बकाया बिजली का बिल।

राशि जमा करने के बावजूद भी उपभोक्ता को मिल रहा बकाया बिजली का बिल।

करीब दो महीने पहले उपभोक्ता ने जमा कराई थी बिल की राशि चालीस हजार दौ सौ अठारह रुपये।

जी हां राजस्थान धौलपुर जिले में एक अजीब और चौंकाने वाली बात सामने आकर बिजली उपभोक्ता के परिवार से भी आज पूरी तरह से सुनने को मिल रही है।

इस चौंकाने वाली बात को लेकर जिला धौलपुर बिजली विभाग की एक बडी़ लापरवाही समझी जाये या राशि को ड़कारने की बात।

खैर मामलें में मामले की हकीकत कुछ भी हो।

लेकिन बिना विभाग की सच्चाई जानें बिना आज यह कह पाना सही नहीं होगा कि खबर का असली माजरा क्या है।

खबर के चलते बता दें रजौराखुर्द गांव के निवासी बिजली उपभोक्ता नेञपाल सिंह जाटव ने मार्च महीने की अंतिम तारीख में जिले के सैंपऊ बिजलीघर जाकर बिजली के बकाया चल रहे बिल की राशि चालीस हजार दौ सौ अठारह रुपये को जमा कराया था। 

अब खबर में मजे की बात तो ये है कि दो महीने पहले राशि जमा करने के बावजूद भी आज उपभोक्ता के घर पर संम्बधित विभाग द्वारा बकाया बिल की जमा राशि जोड़कर आज बिजली का बिल दिया जा रहा है। और उसी हिसाब से उसका बिल में बिलम्ब चार्ज जोडा़ जा रहा है।

खबर में आगे बता दें कि ऐसा भी नहीं कि उपभोक्ता के पास दो महीने पहले यानि मार्च में जमा कराई राशि चालीस हजार दौ सौ अठारह रुपये का आज बिल जमा रसीद नहीं हो। 

राशि जमा कराने की जमा बिल रसीद भी आज उपभोक्ता के पास मौंजूद बनी है।

अब सवाल इस बात का है कि इतनी बड़ी बिल की जमा राशि आखिर कहां गई।

वहीं समस्या के चलते बिजली उपभोक्ता को एक भारी मानसिक तनाव और बड़ी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

जहां उपभोक्ता के परिवार ने आज शीघ्र ही राजस्थान धौलपुर जिला प्रशासन से बिल की जमा की गई राशि विभाग द्वारा भेजे जा रहे आगामी बिल से कटवाये जाने की मांग की है।

राशि नहीं कटने पर उपभोक्ता परिवार ने चेतावनी दी है मामले को लेकर उच्च विभागीय अधिकारियों को पूरा मामला अवगत कराकर राज्य की सरकार को अवगत कराया जायेगा।

साथ ही न्यायालय का दरवाजा भी खटखटाया जायेगा।

About Amit Kumar Underiya