वेद मंत्रों के साथ यजुर्वेद परायण महा यज्ञ का शुभारंभ

वेद मंत्रों के साथ यजुर्वेद परायण महा यज्ञ का शुभारंभ

आर्य समाज गंगापुर सिटी के तत्वाधान में श्रावणी पर्व के उपलक्ष्य वेद मंत्रों के उच्चारण से सोमवार को आर्य समाज गंगापुर सिटी यजुर्वेद परायण महा यज्ञ का शुभारंभ प्रातः8 बजे किया गया प्रथम पारी 8 बजे से 11बजे में यज्ञ,भजन और प्रवचन द्वितीय पारी दोपहर 2 बजे से 4:30 बजे तक में भजन व प्रवचन एवं रात्रि 8 बजे से 9:30 बजे तक भजन व प्रवचन हुए सोमवार को मदन मोहन बजाज,विनोद खंडेलवाल,दीपक कुमार धागे वाले,मुरारी लाल जी बजाज,दिनेश चंद सोनी यजमान रहे सोमवार को कार्यक्रम में बरेली से पधारे भजनोपदेशक भानु प्रकाश शास्त्री जी ने अब दूर नही है प्रभु हम से दुनिया है एक पहेली नही समझ किसी के आये कही सजी रहे राते कही दीपक नही जलाया………..दो घड़ी परमात्मा को सर झुका कर देख ले दीनबंधु की की शरण एक बार आ कर देख ले………..आर्यो के तुम हो प्राण ऋषि दयानंद तुम्हारा क्या कहना तेरी भक्ति का क्या कहना तेरी शक्ति का क्या कहना………. आदि मधुर भजनों की प्रस्तुति से श्रोताओ को लाभान्वित किया एवं वृन्दावन गुरुकुल के आचार्य जयपुर पधारे आचार्य सच्चिदानंद जी ने अपने प्रवचन में बताया कि श्रावणी पर्व वेद को सुनने सुनाने का पर्व है 

वेद का प्रचार इसलिए जरूरी है क्योंकि वेद के मार्ग पर चलने से व्यक्ति की भौतिक उन्नति तो होती ही है उसके साथ ही आध्यात्मिक उन्नति भी होती है इसलिए व्यक्ति का जीवन वेदानुकूल होना चाहिए धर्म जीवन का प्रमुख आधार है लेकिन वेद का पढ़ना और पढ़ाना सभी का परम धर्म है सत्संग व्यक्ति को जगाने का कार्य करता है परमात्मा के द्वारा दिया ये जीवन छण भंगुर है जो जीवन मे परमात्मा की भक्ति करता है उसको मृत्यु से भय नही लगता है आदि प्रवचन के द्वारा श्रोताओ को लाभान्वित किया कार्यक्रम प्रतिदिन तीन पारियों में आर्य समाज मंदिर गंगापुर सिटी में 11 अगस्त तक निरंतर चलेगा कार्यक्रम में धार्मिक बंधु अधिक से अधिक पधारे इस दौरान कार्यक्रम में मदन मोहन बजाज,संतोष मसावात वाले,नरेंद्र आर्य,कैलाश मित्तल,आशुतोष आर्य,गोवर्धन लाल गर्ग,सत्यप्रकाश सोनी,ओमप्रकाश धागे वाले,कृष्ण कुमार सोनी,रामस्वरूप शर्मा,सत्यप्रकाश आर्य,राजेश आर्य,गिरीश आर्य,मोहित आर्य,प्रदीप आर्य,शुभम आर्य,रामदयाल जी डांस, गजानंद गोयल,राजेश मेड़ी,पुष्पा आर्य,उषा ठाकुरिया,सुमन आर्य,माया जिंदल,टीना सोनी,शारदा देवी,कविता देवी,सीमा आर्य,अंतिमा आर्य,मंजू गर्ग,ललिता देवी,मिथलेश मित्तल,रेणु आर्य,आदि के अलावा सैकड़ो की संख्या में श्रोतागण उपस्थित थे

About Uttam Meena