समय बदल गया पर डामरीकरण में नहीं बदली नरेगा की सड़क।

समय बदल गया पर डामरीकरण में नहीं बदली नरेगा की सड़क।

बर्ष जनवरी 2014 में मिसिंग लिंक सड़क योजनां के तहत संम्बधित विभाग पीडब्ल्यूडी़ ने जारी की थी सड़क के डामरीकरण के लिये 90₹ लाख रुपये की स्टेट्स रिर्पोट।

राजस्थान धौलपुर जिले अन्तर्गत बनी रजौराखुर्द जाटव बस्ती से नगला रौहाई की तरफ जा रही बर्ष 2008-09 में मनरेगा के तहत निर्मित नरेगा सड़क आज डामरीकरण के अभाव में अपना अस्तिव खो रही है।

अगर देखा जाये तो सड़क को बने बीते समय में काफी समय बदल गया है लेकिन आज तक नरेगा की सड़क डा़मरीकरण में नहीं बदली है।

जहां सड़क पर बीते इस समय में पेड़- पौधे और कटीली झाड़िया ही नहीं निपजी बल्कि साईडों से कटकर सड़क की जमीन खेतों में मिल चुकी है।

बता दें संम्बधित विभाग पीडब्ल्यूडी़ धौलपुर ने सड़क के पक्का डा़मरीकरण कराने के लिये बर्ष जनवरी दो हजार चौदह में मिसिंग लिंक सड़क योजना के तहत नब्बे लाख रुपये स्टेट्स रिर्पोट जारी कर बजट आने पर डा़मरीकरण कराये जाने की बात की थी।

About Amit Kumar Underiya