सोशल मीडिया पर खसरा व रूबेला के टीके को लेकर गलत फैल रही है अफवाह

सोशल मीडिया पर खसरा व रूबेला के टीके को लेकर गलत फैल रही है अफवाह

जैसा कि सभी को पता है की पूरे भारत में ही खसरा व रूबेला के टीके लगाए जा रहे हैं जो 9 माह से लेकर 15 साल तक के बच्चों को लगाए जा रहे हैं और यह टीके है सभी सरकारी अस्पताल स्वास्थ्य केंद्र, आंगनवाड़ी केंद्र, वे सभी सरकारी व निजी स्कूलों पर निशुल्क लगाए जा रहे हैं पर इसके साथ ही कुछ लोगों में व कुछ समाजों में एक भ्रांति बनी हुई है कि यह गलत टीके है बच्चों में घातक बीमारी बढ़ने की संभावना बताकर सोसल मीडिया पे अफवाह फैला रहे है 

 गंगापुर सिटी पोर्टल ने इसकी पूरी पड़ताल की आज नसिया कॉलोनी में निजी स्कूल में टीकाकरण कैंप लगाया गया जिसमे यूपीएससी संस्थाव आंगनवाड़ी की ओर से टीकाकरण किया जा रहा था संस्था में कार्यरत माया देवी मीणा मीणा जी द्वारा बताया गया कि यह टीके घातक बीमारी से बचने के लिए लगाए जा रहे हैं इसमें किसी भी तरह की कोई परेशानी नहीं है और ना ही इसका कोई साइड इफेक्ट है बच्चों में चेचक ,छोटी माता, बड़ी माता आदि को दूर करने के लिए लगाए जा रहे हैं व गर्भवती महिलाओं द्वारा अपंग बच्चे पैदा होते हैं उसकी रोकथाम के लिए यह टीके बहुत जरूरी है बहुत जरूरी है।

 उसके बाद गंगापुर पोर्टल ने हॉस्पिटल पहुंचकर कुछ डॉक्टरों से इस टीके की जानकारी की जानकारी ली।

शिशु विशेषज्ञ मुकेश मीणा द्वारा भी कहा गया कि यह टीके पहले पैसे देकर लगवाए जाते थे अब यह निशुल्क है और यह जरूरी  हैं। इसी तरह M.D डॉक्टर अकरम ने सभी के लिए संदेश दिया कि किसी भी अफवाह पर ध्यान ना दें और अपने बच्चों को घातक बीमारियों से बचाए यह टीके जरूरी है जरूर लगवाएं। इसी तरह से शिशु विशेषज्ञ डॉक्टर रूप सिंह मीणा ने भी बताया कि यह 30 लाख बच्चों को अबतक लग चुके हैं अभी तक एक भी बच्चा बीमार नहीं पड़ा है और ना ही इसका कोई साइड इफेक्ट ही इसका कोई साइड इफेक्ट है।

गंगापुर सिटी पोर्टल में जो भी जानकारी मिली वह आज हमने आपतक पहुंचाई है और यह सारे तथ्य सही है कि टीको में कोई प्रॉब्लम नहीं है इसमें बच्चों की बीमारियों से बचाव के लिए किया गया एक साहसी कदम है जिसे सरकार निशुल्क लगा रही है गंगपुर सिटी पोर्टल सभी से आशा करता है कि इस मिशन पर हम सबको अपने बच्चों को यह टीका लगाना है और यह सारी बीमारियों को दूर भगाना है

जय हिन्द वन्दे मातरम ।