सिर्फ नाम का गौरव पथ। पथ पर कीचड़ ही कीचड़।

एंकर-वज़ीरपुर उपखंड क्षेत्र के श्यारोली गाँव मे बस स्टैंड से भैरव धाम जाने का मुख्य रास्ता कहने को तो गौरव पथ है लेकिन गौरव जैसा कुछ दिखाई नही देता।सारे रास्ते मे पानी के निकास के लिए नहीं है किसी भी जगह नाले की वयवस्था।जिसके कारण बीच सड़क पर रहता है हमेशा कीचड़ ।आने जाने वालों को होती है निकलने में भारी परेशानी।कीचड़ रहने से मच्छरों के पनपने की रहती है समस्या।और बढ़ रही बीमारियों की आशंका।

दुकानदार ओमचंद गोयल ने बताया कि मेरी दुकान के सामने हमेशा कीचड़ रहता है जिसके कारण मेरे घर मे सांप ,बिच्छु, कीड़े आदि आते रहते है।दुकान पर आने वालों को बहुत परेशानी होती है । भैरों जी पर जाने वाले यात्रियों को भी बहुत परेशानी होती है।इसकी शिकायत भी कर दी गयी लेकिन कोई सुनवाई नही हुई।

राजेन्द्र कृषक का कहना है कि जरा सी बरसात होने पर सड़क पर पानी भर जाता है।जिससे निकलने में भारी दिक्कत होती है।सार्वजनिक निर्माण विभाग द्वारा कार्य किया गया जिसने नालियों के नाम पर सिर्फ खाना पूर्ति कर दी।

About Pankaj Sharma

Manager at Gangapur City Portal