सभी बेटियों के लिए समाज को सुरक्षा कवच बनकर रहना होगा

सभी बेटियों के लिए समाज को सुरक्षा कवच बनकर रहना होगा

सभी बेटियों के लिए समाज को सुरक्षा कवच बनकर रहना होगा-नेहा गिरि

धौलपुर 18 मई, जिला कलक्टर नेहा गिरि स्वतन्त्राता सेनानी डॉ. मंलग सिंह सामान्य चिकित्सालय के सर्जीकल वार्ड में भर्ती रेप पीड़ित बालिका का हाल जानने पहंुची। उन्होंने पीड़ित बालिका से उसके हाल पूछे व उसका हौसला बढ़ाया तथा बालिका के परिजनों कों उसका अच्छे से देखभाल करने की सलाह दी। उन्होंने कहा कि बालिका की उम्र अभी 8 वर्ष है तथा अभी वह अबोध है, उसके प्रति किसी भी सदस्य द्वारा हीन भावाना नहीं लाए बल्कि उसको मानसिक रूप से मजबूत बनाए। जिससे वह आने वाले दिनों में अपने लक्ष्य से न भटकते हुए अपने लक्ष्य की ओर अग्रसर रहे। उन्होंने पीड़ित बालिका के सर पर हाथ फेरकर उसके हाल जाने तथा उसके साथ उसकी रूचि जानी। इस पर बालिका ने बढ़े गर्व से कहा उसको बड़े होकर मैडम (शिक्षिका) बनना है। 

उन्होंने बालिका के परिवार जनों से कहा कि माता-पिता की जिम्मेदारी होती है कि बच्चों की देखभाल करें। उनका ख्याल रखें। अगर कोई भी समस्या आ रही है तो तत्काल उस पर ध्यान दें जिससें बच्चों के मन पर कोई असर न पड़े। उन्होंने बालिका की माता को सुझाव देते हुए कहा कि बच्ची अभी छोटी है उसको किसी भी चीज का कोई ज्ञान नहीं है इसलिए आपकी यह जिम्मेदारी बनती है कि आप उसका अच्छे से ख्याल करें। उसको समय पर चिकित्सक द्वारा निर्धारित दवा दें। उन्होंने इस मौके पर कहा कि समाज में सभी बेटीयां अपनी बेटी की तरह ही होती है, किसी भी बेटी के साथ कुछ होता है तो इसके लिए सभी को एकजुट होकर इसको रोकना होगा। उन्होंने कहा कि बेटियों की सुरक्षा के लिए सभी विभाग मिलकर एक सुरक्षा कवच बनाए। जिससे ऐसे असामाजिक तत्व कोई गलत कदम न उठा पाए। समाज के सभी व्यक्तियों को एक साथ मिलकर ऐसी घटनाओं का सामना करना होगा व सभी बेटियों को सुरक्षा कवच प्रदान करना होगा। इस मौके पर प्रमुख चिकित्सा अधिकारी डॉ. जनार्दन सिंह व पीड़ित बालिका के परिवारजन मौजूद रहें।

About Rahul Sharma

Leave a Reply