सौंहा में चले सहयोग शिछक प्रशिछण निशुल्क गैर आवासीय शिविर का हुआ आज समापन |

सौंहा में चले सहयोग शिछक प्रशिछण निशुल्क गैर आवासीय शिविर का हुआ आज समापन |

सौंहा में चले सहयोग शिछक प्रशिछण निशुल्क गैर आवासीय शिविर का हुआ आज समापन

धौलपुर बाडी के सौंहा में आज गैर आवासीय निशुल्क सहयोग शिक्षक प्रशिक्षण शिविर का समापन किया गया। पतंजलि योगपीठ हरिद्वार के आदेशानुसार चल रहे इस शिविर में संभागीय आध्यात्मिक व भौतिक क्रियाओं के साथ- साथ आयुर्वेद का ज्ञान भी आयुर्वेद चिकित्सकों द्वारा कराया गया।

जहां शिविर में कुमारी फेमदा बानो सहयोग शिक्षिका ने सूक्ष्म व्यायाम से लेकर कठिन आसनों तथा प्राणायाम का अभ्यास कराया।

साथ ही शिविर में जिला योग प्रभारी गयाप्रसाद शर्मा ने काया के योग दर्शन अनुसार जब श्वांस शरीर में आता है तब मात्र वायु या ऑक्सीजन ही नहीं आती बल्कि एक अखंड दिव्य शक्ति भी शरीर के अंदर प्रवेश करती है जो शरीर में जीवन की शक्ति यानि जीवनी को बनाए रखती है। शिविर में मुख्य अतिथि राजेश चेतन ब्रह्मचारी एवं भूमानंद महाराज ने कहा कि आयुर्वेद में 13 अग्नियां मांनी गई है इन 13 अग्नियों की चिकित्सा को ही आयुर्वेद में कार्य चिकित्सा कहते हैं जैसा बताया।

वहीं शिविर में तहसील प्रभारी राम प्रसाद गोस्वामी ने कहा कि समस्त शरीर में जीवनी शक्ति के प्रसार का मुख्य साधन सुषुम्मा ही होता है। इसके चलते शिविर का संचालन सह जिला प्रभारी बबलू गौड़ ने किया तथा संजीव तहसील प्रभारी स्वाभिमान प्रभारी महिला पतंजलि तहसील प्रभारी साक्षी एवं भारत स्वाभिमान जिला प्रभारी डॉ लाजपत शर्मा और प्रखंड अधिकारी माधवी शर्मा जिला महामंत्री रमेश कोतवाल आदि आदि ने शिविर कार्यक्रम में मौंजूद अपने- अपने विचार प्रकट किए।

इसी मौंके पर आकाश राहुल प्रशांत श्रीकांत नरेंद्र अजीत विपन मैरी बानो आदि ने प्रशिछण शिविर में अपना भाग लेकर प्रशिक्षण शिविर को एक सफलता प्रदान की।

About Amit Kumar Underiya

Leave a Reply