धौलपुर जिले में बने खैंमरी उत्कृष्ठता केन्द्र के सामने यूपी-राजस्थान बार्डर की सीमा पर धड़ल्ले से हो रही पत्थर की निकासी |

धौलपुर जिले में बने खैंमरी उत्कृष्ठता केन्द्र के सामने यूपी-राजस्थान बार्डर की सीमा पर धड़ल्ले से हो रही पत्थर की निकासी |

जी हां राजस्थान धौलपुर जिले बसेडी छेञ अन्तर्गत बने खैंमरी उत्कृष्ठता केन्द्र के सामने और यूपी झींटपुरा बार्ड़र सीमा पर आज धड़ल्ले से पत्थर खनन निकासी का कारोबार बडी़ माञा में होना बताया जा रहा है।

पत्थर निकासी कर पत्थर की सप्लाई आसपास के गांवों में मकान बनाने आदि के रुप में उपयोग लिया जा रहा है।

इस यूपी राजस्थान की बार्ड़र की सीमा पर पिछले काफी समय से पत्थर माफियाओं द्वारा पत्थर की निकासी पिछले काफी समय होना सामने आ रहा है।

पत्थर की निकासी विभागीय अनुमति से हो रही है या नहीं यह तो विभागीय जांच के बाद ही साफ हो पायेगा।

छेञ में हो रही पत्थर निकासी में फिलहाल कुछ अग्यात लोगों से मिली एक गुप्त सूचना पर पत्थर की निकासी अवैध होना बतायी जा रही है।

हो रही पत्थर निकासी की गांव पत्थर से भरी ट्रौली की बिक्री की कीमत करीब तीन हजार रुपया और दूरी और पत्थरों की संख्या के हिसाब होती है।

हालांकि इस पत्थर निकासी के पत्थर से भरी ट्रौली की एक कुछ छेञ के प्राईवेट व्यक्तियों द्वारा इधर हाईवे-123 की तरफ आने वाले पत्थर ट्रौली की कैंथरी यूपी राजस्थान बार्ड़र पर एक रसीद भी बनाई जाती है।

About Amit Kumar Underiya

Leave a Reply