गणेश जी का लक्खी मेला शुरू, कलेक्टर एवं एसपी ने मेले में स्वयं जाँची व्यवस्थाएं

गणेश जी का लक्खी मेला शुरू, कलेक्टर एवं एसपी ने मेले में स्वयं जाँची व्यवस्थाएं

गणेश जी का लक्खी मेला शुरू

कलेक्टर एवं एसपी ने मेले में स्वयं जाँची व्यवस्थाएं

सवाई माधोपुर, रणथंबोर त्रिनेत्र गणेष का तीन दिवसीय लक्खी मेला रविवार 1 सितम्बर से शुरू हो गया। गणेश जी का मुख्य मेला सोमवार 2 सितम्बर को गणेश चतुर्थी के अवसर पर रहेगा। इसी दिन सर्वाधिक गणेश भक्त भगवान को गणेश जी को ढोक लगायेंगे। तीन दिनों में लाखों लोगों के आने के कारण ही यह मेला लक्खी मेला कहलाता है।

इस वर्ष क्षेत्र में अच्छी वर्षा के कारण अधिक संख्या में श्रद्धालुओं के आने की उम्मीद है। गणेश मेले में लगातार गणेश भक्तों के रैले, पैदल यात्राओं के जत्थे रणथम्भौर के लिए चल रहे हैं। जिला मुख्यालया पर रेलवे स्टेशन, रणथम्भौर सर्किल से लेकर गणेश धाम और रणथम्भौर किले एवं मन्दिर तक गणेश भक्तों की भारी भीड़ देखी जा सकती है।

मेले के दौरान जिले के समाज सेवी संस्थाओं, गणेश भक्त लोगों एवं धर्मप्रेमियों की ओर से आने वाले गणेश भक्तों, श्रद्धालुओं के लिए भण्डारे लगाये गये हैं। भण्डारों में प्रसादी के रूप में चाय, पानी, दुध, शरबत, पुड़ी सब्जी, हलवा, पकोड़ी, कचैड़ी आदि सहित नाश्ते से लेकर भोजन तक सभी व्यवस्थाऐं निःशुल्क की गई हैं। भण्डारों में श्रद्धालुओं को प्रेम के साथ प्रसादी वितरण किया जा रहा है।

मेले में व्यवस्थाओं को मुस्तैद रखने तथा आने वाले श्रद्धालुओं को किसी प्रकार की परेषानी नहीं हो, इसके लिए जिला कलेक्टर, पुलिस अधीक्षक सहित प्रषासन के अधिकारी पूरी मुस्तैदी एवं तत्परता के साथ जुटे हुए हैं।

जिला कलेक्टर डाॅ.एस.पी.सिंह ने रविवार को गणेष धाम पहुंचकर मेले का जायजा लिया। उन्होंने मेले में पार्किंग व्यवस्था, पानी वाले स्थानों पर तैनात जाब्ता, गोताखोरों के संबंध में वस्तुस्थिति जांची। कलेक्टर डाॅ.सिंह ने मेला स्थल पर सफाई के विषेष प्रबंध रखने के लिए विकास अधिकारी सवाई माधोपुर को निर्देष दिए।

कलेक्टर ने रेलवे स्टेषन, कुंडेरा बस स्टैंड, रणथंभौर रोड सहित अन्य स्थानों पर चल रहे भंडारों पर सफाई के संबंध में नगर परिषद आयुक्त एवं विकास अधिकारी को निर्देष देते हुए सफाई के लिए विषेष प्रबंध के निर्देष दिए। कलेक्टर ने मेला कंट्रोल रूम पर चाइल्ड लाइन की गतिविधियों का भी अवलोकन किया। उन्होंने चाइल्ड लाइन द्वारा मेले में अपने परिजनों से बिछुड़ने वाले बालकों को वापस परिजनों तक पहुंचाने के लिए किए गए प्रयासों की जानकारी ली तथा सराहना की। उन्होंने गणेष धाम से मेला मजिस्ट्रेट रणथंभौर दुर्ग केम्प तक सूचनाओं के आदान प्रदान एवं कम्यूनिकेषन के लिए लगाए गए वायरलेस सेट की जांच की। उन्होंने मेला मजिस्ट्रेट से वायरलेस पर वार्ता कर रणथंभौर दुर्ग की व्यवस्थाओं की जानकारी ली।

जिला कलेक्टर डाॅ.सिंह ने मेले परिसर, गणेष धाम, रणथंभौर दुर्ग सहित अन्य स्थानों पर की गई बिजली व्यवस्था, रोषनी के प्रबंध, बेरिकेटिंग का भी जायजा लिया। उन्होंने पार्किंग व्यवस्था दुरस्त रखने तथा ओवरलोडिंग रोकने के लिए पुलिस एवं परिवहन के अधिकारियों से जानकारी ली। कलेक्टर ने मेला स्थल गणेष धाम सहित मेले में खाद्य पदार्थाे की गुणवत्ता की नियमित जांच के लिए नियुक्त टीमों से भी फीडबेक प्राप्त किया। मेले में कलेक्टर डाॅ.सिंह ने अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक धर्मेन्द्र यादव, एडीएम महेन्द्र लोढा सहित अन्य अधिकारियों से मुस्तैदी एवं टीम भावना के साथ जुटे रहकर मेले की व्यवस्थाओं को दुरस्त रखने के निर्देष दिए।

जिला कलेक्टर डाॅ. सिंह ने मेले के लिए गणेष धाम नियंत्रण कक्ष पर लगाए गए दूरभाष नंबर 07462-252246 पर काॅल कर जांच की। उन्होंने नियंत्रण कक्ष एवं एड्रेसिंग सिस्टम के संबंध में निर्देष भी दिए। इसी प्रकार पुलिस अधीक्षक सुधीर चैधरी, एडीषनल एसपी धर्मेन्द्र यादव, एडीएम महेन्द्र लोढा ने भी मेले की व्यवस्थाओं का जायजा लिया।

About Pankaj Sharma

Manager at Gangapur City Portal

Leave a Reply