fbpx

10 का सिक्का चालू करवाओ, गंगापुर प्रसाशन होश में आओ

10 का सिक्का चालू करवाओ, गंगापुर प्रसाशन होश में आओ

10 का सिक्का चालू करवाओ, गंगापुर प्रसाशन होश में आओ

  • Gangapur City

बाजार में इन दिनों 10 रुपए का सिक्का बंद होने की अफवाह फैल गई है। इसके परिणामस्वरूप आए वक्त दुकानदारों और ग्राहकों के बीच सिक्के के लेनदेन को लेकर तीखी बहस हो रही है, जबकि हकीकत में 10 का सिक्का बंद नहीं हुआ है। बल्कि नकली के फेर में असली सिक्का पिट रहा है।

बैंकर्स की मानें तो बाजार में 10 रुपए के कुछ सिक्के नकली आए हैं, जिन्हें बैंक ने लेने से इंकार किया होगा, लेकिन असली और नकली सिक्कों की पहचान भी बहुत आसान है। सिक्के पर यदि रुपए का निशान (~) है और 10 के अंक के ऊपर 10 लाइन हैं तो वह असली है, जबकि नकली पर रुपए का निशान नहीं है। साथ ही उस 10 के अंक के ऊपर 15 लाइनें हैं |

  • 10 रुपए के सिक्कों का ढेर लग गया

कई दुकानदार 10 रुपए का सिक्का नहीं ले रहे हैं, जो दुकानदार 10 रुपए का सिक्का ले रहे हैं उनसे वापस ग्राहक नहीं ले रहा है। ऐसे में उन व्यापारियों पर 10 रुपए के सिक्कों का ढेर लग गया है। खास बात तो यह है कि बाजार में 10 रुपए के सिक्कों के लेनदेन को लेकर ग्राहक और दुकानदार के बीच बार-बार तीखी बहस हो रही है। दुकानदार दस का सिक्का लेने से मना करते हैं तो झगड़ा बढ़ जाता है। लीड बैंक मैनेजर विभुरंजन कर ने इन अफवाहों पर विराम लगाया है।

  • भारतीय मुद्रा लेने से इंकार नहीं किया जा सकता

उनका कहना है कि भारतीय मुद्रा लेने से इंकार नहीं किया जा सकता, लेकिन कुछ दुकानदार नकली सिक्के के फेर में असली सिक्के लेने से इनकार रहे हैं। जबकि असली और नकली सिक्के की पहचान काफी आसान हैं। वहीं कुछ बड़े व्यापारी इसलिए भी सिक्के लेने से इंकार कर रहे होंगे क्योंकि बैंक में उन्हें सिक्के के बदले सिक्के ही दिए जाते हैं। इसलिए आप भी इन निशानों को देखकर असली और नकली सिक्कों की पहचान कर सकते हैं।

  • यह है असली और नकली की पहचान

-असली सिक्के में रुपए का साइन है। जबकि नकली में केवल 10 का अंक लिखा हुआ है।
-असली सिक्के में 10 पट्टी बनी हैं। जबकि नकली में 15 पट्टी बनी हुई हैं।
-सिक्के के दूसरी ओर असली में भारत और INDIA अलग अलग लिखा है। जबकि नकली में एक साथ लिखा हुआ है।

जहाँ एक ओर हमारा गंगापुर सिटी पढाई और शिक्षा के क्षेत्र में आज पूरे भारत में अपना लोहा मनवा रहा है, वहीँ दूसरी ओर यहाँ पढ़े लिखे लोग होने के बावजूद यहाँ के नागरिक अनपढ़ों जैसी बातें और अफवाहों  को अपने सीने से लगाये बैठे है |

जैसा की गंगापुर सिटी पोर्टल आपको पहले भी अवगत करवा चुका है,  कि 10 रूपये का सिक्का  वैध राष्ट्रीय मुद्रा है और यदि कोई भी व्यक्ति अथवा संस्थान इसका प्रचलन रोकती है या ऐसा प्रयास करती है तो इसे राष्ट्रीय मुद्रा का अपमान मानकर नियमानुसार कार्यवाही की जावेगी |
10 के सिक्के का उपयोग न करने के सम्बंध में कोई भी तर्क वितर्क मान्य नही होंगे । साथ ही आप वीडियो भी बना सकते है, यदि कोई तर्क दे तो उससे तर्क लिखित में ले | गंगापुर सिटी पोर्टल आपकी आवाज प्रसाशन तक पहुँचाने की कोशिश करेगा |

यदि हम गंगापुर वासी, जो गंगापुर को शिक्षित नगरी के रूप में प्रदर्शित करते है, और हम ही ऐसा करेंगे तो कैसे काम चलेगा |

 कई मित्रों के द्वारा हमें मैसेज किये जाने पर गंगापुर सिटी पोर्टल, गंगापुर सिटी प्रसाशन से निवेदन करता है कि जनता के हित में अपने अधिकारों और नैतिक मूल्यों का परिचय देते हुए, 10 के सिक्के का प्रचलन शुरू करे और इस बारे में विचार करते हुए लोगों में फैली हुई भ्रान्तियों को दूर करे साथ ही राष्ट्रीय मुद्रा को पुनः सम्मान प्रदान करे।

निवेदक:– गंगापुर सिटी पोर्टल, युवा भारत विकास परिषद् एवं समस्त गंगापुर निवासी |

About Gangapur City Portal

hi i am gangapur city portal admin

Comments (12)

  1. शर्म की बात है गंगापुर पुलिस और प्रशासन कुछ नहीं कर पा रहा पुलिस और प्रशासन नाम मात्र के ही है

Leave a Reply