fbpx

नही थम रहा बालिका विद्यालय में विवाद

नही थम रहा बालिका विद्यालय में विवाद

नही थम रहा बालिका विद्यालय में विवाद

व्याख्याता ने कराया प्रधानाचार्य के खिलाफ मामला दर्ज

मलारना डूंगर, उपखंड मुख्यालय के राजकीय बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय में व्याख्याता ओर प्राचार्या के बीच विवाद थमने का नाम ही नहीं ले रहा।

जानकर सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार व्याख्याता सुमन मीना ने प्रधानाचार्य उमा वर्मा के खिलाफ शारीरिक और मानसिक रूप से प्रताड़ित कर जाति सूचक शब्दों से प्रताड़ित करने का मामला दर्ज कराया है। पीड़िता ने रिपोर्ट में पुलिस को बताया कि प्रधानाचार्य रसूखदार राजनीतिक प्रभाव वाली झगड़ालू प्रवृत्ति की महिला है। जो आए दिन अपने सहकर्मियों से अभद्र भाषा का प्रयोग करते हुए दुर्व्यवहार करती है।

पुलिस ने बताया कि 31 अगस्त को प्रार्थना होने के उपरांत प्रधानाचार्य और पीड़िता के बीच बारहवीं कक्षा के रजिस्टर को लेकर आपसी कहासुनी हुई। जिसमें प्रधानाचार्य ने व्याख्याता सुमन मीना को धक्का देकर जमीन पर गिरा दिया और जाति सूचक शब्दों से अपमानित कर गाली गलोज करते हुए। पीड़िता को घसीट कर बाहर निकाल दिया। जिससे पीड़िता की तबीयत खराब हो गई। जिसपर स्कूली छात्राओं ने पीड़िता को संभाला और अन्य स्टाफ व कर्मचारियों को बुलाकर मलारना डूंगर राजकीय सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया। लेकिन पीड़िता को गंभीर अवस्था को देख चिकित्सकों ने सवाई माधोपुर रेफर कर दिया।

गौरतलब है कि राजकीय बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय में लगातार हो रहे विवाद के बाद भी शिक्षा विभाग के उच्च अधिकारियों की कार्यवाही के नाम पर नींद नहीं टूट रही। गत दिनों उप जिला कलेक्टर मनोज वर्मा के स्कूल निरीक्षण के दौरान स्कूल के शौचालय में गुटके और तंबाकू के पाउच के साथ व्याप्त गंदगी को देखकर एसडीएम ने नाराजगी जताई थी। इससे पहले स्कूल में उपस्थिति जांचने आए बौंली ब्लॉक के एक शिक्षा अधिकारी को शिक्षक के द्वारा गाली गलौज कर धमकाने का मामला सामने आया। पूर्व में भी लगातार निरीक्षण के दौरान अध्यापकों की लेटलतीफी सामने आयी। मगर शिक्षा अधिकारियों के द्वारा इन लापरवाह शिक्षकों पर कोई कार्यवाही नहीं होने से उनके हौसले बुलंद हो रहे हैं।

About Pankaj Sharma

Manager at Gangapur City Portal

Leave a Reply