fbpx

15 मार्च-आजीवन कारावास की सजा सुनाई, Sawai Madhopur

15 मार्च-आजीवन कारावास की सजा सुनाई, Sawai Madhopur


गंगापुर सिटी के सदर थाना पुलिस ने 18 मई 2015 में एक मुकदमा दर्ज किया जिसमें दो पक्षों की आपसी लेनदेन के मामले में मारपीट हुई जिसमें गंगापुर सिटी के आरोपी आशीष पाराशर और उसके साथी रामबाबू ने मृतक ओम प्रकाश मीणा दही बिलोने की मशीन व तलवार से सर पर जानलेवा हमला कर दिया जिसमें ओमप्रकाश मीणा की मौके पर ही मौत होना पाया गया था जिसके तहत गंगापुर सिटी थाना पुलिस को मृतक ओम प्रकाश के परिजनों ने हत्या का मुकदमा दर्ज करवाया था जिसमें 3 साल बाद आज एसटी एससी कोर्ट के जज बाल कृष्ण मिस्र ने फैसला सुनाते हुए आरोपी आशीष पाराशर को ओमप्रकाश मीणा की हत्या का आरोपी माना गया इसके साथी राम बाबू को न्यायालय ने मुकदमे से बरी कर दिया जिसमें आशीष पाराशर द्वारा ओमप्रकाश मीणा की हत्या करना कबूल करने के आधार पर मौके पर मिले सबूतों के आधार पर आशीष पाराशर को धारा 302 आईपीसी के तहत आजीवन कारावास व 25,000 अर्थदंड वह 6 माह का कठोर कारावास मूल सजा के अतिरिक्त और 3/2 section 5 SC ,ST act के तहत आजीवन कारावास व 25000 रुपए का अर्थदंड मूल सजा के अतिरिक्त 6 माह का कठोर कारावास की सजा सुनाई कुल जुर्माना ₹50000 से ₹40000 मृतक के आश्रित को दिलाने के आदेश भी दिए तथा प्रतिक राशि दिलाने हेतु प्रखंड को अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण को भी संदर्भित किया गया |

About Gangapur City Portal

hi i am gangapur city portal admin